Sunday, August 7th, 2022

Vice President Election: जानिए क्यों तय माना जा रहा जगदीप धनखड़ का जीतना, आज शाम आएंगे नतीजे : Lokmat Daily

Vice President Election: जानिए क्यों तय माना जा रहा जगदीप धनखड़ का जीतना, आज शाम आएंगे नतीजे : Lokmat Daily

हाइलाइट्स

उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए निर्वाचक मंडल में 780 वोट शामिल हैं.
एनडीए के पास 462 वोट हैं, जिसमें से 394 वोट अकेले भाजपा के हैं.
संभावना जताई जा रही है कि विपक्ष की उम्मीदवार मार्गेट अल्वा को 200 से अधिक वोट मिल सकते हैं.

नई दिल्ली. देश के उपराष्ट्रपति के लिए आज चुनाव होने वाले हैं, जिसमें एनडीए उम्मीदवार पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल जगदीप धनखड़ के जीतने के पूरे आसार नजर आ रहे हैं. अगर जगदीप धनखड़ जीतते हैं तो वो भारत के 14वें उपराष्ट्रपति बनेंगे. जगदीप धनखड़ का जीतना इसलिए भी तय माना जा रहा है कि एनडीए के पास संसद के दोनों सदनों में पर्याप्त वोट हैं. शनिवार की सुबह 10 बजे से शाम बजे तक मतदान प्रक्रिया चलेगी. इसके बाद देर शाम तक रिटर्निंग ऑफिसर उपराष्ट्रपति चुनाव के नतीजे की घोषणा करेंगे. लगभग सभी दलों ने जगदीप धनखड़ और उप-राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा के लिए अपने समर्थन का ऐलान कर दिया है.

हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस के बाद देश में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) चुनाव से दूर रहने के अपने फैसले पर अड़ी हुई है, जिससे अल्वा के चुनाव जीतने की संभावना और भी कम हो गई है. उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए निर्वाचक मंडल में 780 वोट शामिल हैं, जिनमें 543 निर्वाचित लोकसभा सांसद और राज्यसभा के 237 सदस्य शामिल हैं. बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव के विपरीत, विधायक उप-राष्ट्रपति चुनाव में मतदान नहीं करते हैं. एनडीए की नेतृत्व करने वाली भाजपा के पास अकेले ही 394 सांसद हैं, जिनमें लोकसभा में 303 और राज्यसभा में 91. कुल मिलाकर, धनखड़ को 525 वोट मिलने की संभावना है, जिसमें एनडीए के 462 वोट शामिल हैं. इसमें शिवसेना के 12 बागी सांसदों के भी वोट शामिल हैं.

सत्तारूढ़ सरकार को आंध्र प्रदेश की सत्तारूढ़ वाईएसआरसीपी (31 सांसद), मायावती के नेतृत्व वाली बहुजन समाज पार्टी (11) और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के बीजू जनता दल (21 सांसद) से भी समर्थन मिला है. धनखड़ शनिवार को चुनाव जीतने के लिए तैयार हैं और 10 अगस्त को उपराष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने की उम्मीद है. हालांकि, वह चल रहे मानसून सत्र में राज्यसभा की अध्यक्षता करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं. इस बीच, उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार अल्वा को तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS), आम आदमी पार्टी (AAP) और झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) सहित कई क्षेत्रीय दलों का समर्थन मिला है. हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी के एआईएमआईएम ने भी विपक्ष की उपराष्ट्रपति उम्मीदवार अल्वा को अपना समर्थन दिया है. उम्मीद जताई जा रही है कि अल्वा को 200 से अधिक वोट मिल सकते हैं.

Tags: Jagdeep Dhankar, NDA

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: