Sunday, August 7th, 2022

Gold Price : सस्‍ता सोना खरीदना है तो जल्‍दी करें, 2000 रुपये तक बढ़ने वाले हैं गोल्‍ड के दाम, क्‍यों आएगा उछाल? : Lokmat Daily

Gold Price : सस्‍ता सोना खरीदना है तो जल्‍दी करें, 2000 रुपये तक बढ़ने वाले हैं गोल्‍ड के दाम, क्‍यों आएगा उछाल? : Lokmat Daily

नई दिल्‍ली. सोने की कीमतें (Gold Price) करीब दो महीने से स्थिर रहने के बाद अब तेजी से भागने वाली हैं. अगर आपको भी सस्‍ता सोना खरीदना है तो जल्‍दी करें, क्‍योंकि सोने के आयात पर शुल्‍क में बढ़ोतरी के बाद अब सराफा बाजार में भी इसका असर दिखेगा.

सरकार ने 1 जुलाई से सोने पर आयात शुल्‍क 10.75 फीसदी से बढ़ाकर 15 फीसदी कर दिया है. वैसे तो यह कदम रुपये में आ रही गिरावट और चालू खाते के बढ़ते घाटे (CAD) को थामने के लिए किया है. मई में सोने का आयात 23 अरब डॉलर तक पहुंच गया था, जिससे रुपये पर दबाव लगातार बढ़ता जा रहा है और 1 जुलाई को यह डॉलर के मुकाबले रिकॉर्ड निचले स्‍तर पर चला गया था. नया आयात शुल्‍क 30 जून से ही प्रभाव में आ गया है.

ये भी पढ़ें – PPF और सुकन्या सहित अन्य स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स के निवेशकों को फिर झटका, नहीं बढ़ी ब्याज दर, चेक करिए लेटेस्ट रेट

विशेषज्ञों का कहना है कि चूंकि भारत अपनी जरूरतों के लिए पूरी तरह सोने के आयात पर निर्भर है, लिहाजा आयात शुल्‍क में हुई बढ़ोतरी का असर घरेलू सराफा बाजार पर भी पड़ेगा और जल्‍द ही इसकी कीमतों में 2,000 रुपये प्रति 10 ग्राम का उछाल आ सकता है. पहले से ही महंगाई से जूझ रही जनता के लिए अब सोना खरीदना और महंगा हो जाएगा जिससे की मांग पर भी असर पड़ेगा.

18.45 फीसदी हो गया है कुल टैक्‍स

सोने पर आयात शुल्‍क में वृद्धि के साथ ही इस पर लगने वाला कुल टैक्‍स 18.45 फीसदी पहुंच गया है. दरअसल, अभी तक सोने पर बेसिक इम्‍पोर्ट ड्यूटी 7.5 फीसदी थी, जिसे 5 फीसदी बढ़ाकर 12.5 फीसदी कर दिया गया है. इसके अलावा 2.5 फीसदी का एग्रीकल्‍चर इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर सेस भी लगाया जाता है, जिससे प्रभावी सीमा शुल्‍क 15 फीसदी हो जाता है. इसमें 0.45 फीसदी नेट ड्यूटी चार्ज जोड़ते हैं, इसके अलावा 3 फीसदी जीएसटी भी सोने पर लगता है, जिससे इसका कुल टैक्‍स बढ़कर 18.45 फीसदी पहुंच जाता है.

ये भी पढ़ें – LIC पॉलिसी: रोज 150 रुपये जमा कर आप बच्‍चे के लिए बना सकते हैं 8.5 लाख का फंड

मई में डेढ़ गुना से ज्‍यादा बढ़ गया आयात

देश में सोने का आयात मई में डेढ़ गुने से भी ज्‍यादा बढ़ गया. सरकार के आंकड़ों के अनुसार, मई में सोने का आयात पिछले साल से 56 फीसदी बढ़ा है, जबकि इस पर होने वाला खर्च 677 फीसदी बढ़कर 5.83 अरब डॅलर रहा. यही कारण रहा कि एमसीएक्‍स पर सोने में 2.50 फीसदी तेजी दिख रही थी, वहीं ग्‍लोबल मार्केट में यह घटकर 1,800 डॉलर प्रति औंस पर आ गया था.

वित्‍त मंत्रालय के अनुसार, मई में कुल 107 टन सोने का आयात हुआ जो जून में भी तेजी से बढ़ रहा है. ज्‍यादा आयात से चालू खाते के घाटे पर दबाव बढ़ रहा है. यह पिछले वित्‍तवर्ष में जीडीपी के मुकाबले 1.2 फीसदी था, जो चालू वित्‍तवर्ष में जीडीपी का 2.9 फीसदी पहुंचने का अनुमान है.

Tags: Business news in hindi, Gold price News, Gold Rate

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: