Monday, May 23rd, 2022

Share market : अगले हफ्ते कैसी होगी बाजार की चाल, तय करेंगे ये 5 फैक्टर्स : Lokmat Daily

Share market : अगले हफ्ते कैसी होगी बाजार की चाल, तय करेंगे ये 5 फैक्टर्स : Lokmat Daily

नई दिल्ली. शेयर बजाज में शुक्रवार को खत्म हुए कारोबारी हफ्ते में मंदड़ियों ने अपनी मजबूत पकड़ को बनाए रखा और सेंसेक्स 53,000 व निफ्टी 16,000 अंकों के नीचे फिसल गया. बाजार में कोई भी बढ़त ज्यादा देर टिक नहीं पाई और निवेशकों ने मुनाफा वसूली पर ज्यादा ध्यान दिया.

5paisa.com के रुचित ने कहा है कि निवेशकों को बाजार में किसी तरह की जल्दबाजी दिखाने से बचना चाहिए. उन्होंने कहा कि बाजार में अभी नेगेटिव ट्रेंड बना हुआ है और इसके रुख में सकारात्मक बदलाव के अभी कोई निशान नहीं दिख रहे हैं. उन्होंने निवेशकों को जल्दबाजी में बॉटम फिशिंग से बचने की सलाह दी है. ऐसे में अब देखना होगा कि बाजार की चाल अगले हफ्ते कैसी होगी. मनीकंट्रोल में छपे एक लेख के अनुसार, बाजार की चाल इन 5 कारकों पर निर्भर करेगी.

ये भी पढ़ें- Upcoming IPO : कमाई का मौका! अगले हफ्ते आ रहे हैं 2387 करोड़ रुपये के 3 आईपीओ, देखें डिटेल्स

डॉलर इंडेक्स
डॉलर इंडेक्स बुलेट ट्रेन की रफ्तार से दौड़ रहा है और 230 साल के अपने सर्वोच्च स्तर पर पहुंच गया है. निवेशक अपने पैसे अन्य इक्विटी से निकालकर डॉलर इंडेक्स में डाल रहे हैं और आगे भी ये बाजार की चाल के एक बड़ा फैक्टर हो सकता है. निवेशकों को डॉलर इंडेक्स की गति पर नजर रखनी चाहिए.

रुपये और डॉलर का मुकाबला
विदेशी संस्थागत निवेशकों की बिकवाली के कारण रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रिकॉर्ड लो पर पहुंच गया. भारतीय आईआईएफएल सिक्योरिटीज के अनुज गुप्ता रुपये और डॉलर के डेविएशन को अगले हफ्ते बाजार की चाल के लिए बड़ा कारक मान रहे हैं.

कमोडिटी की कीमतें
पिछले हफ्ते कमोडिटी की कीमतों में भी गिरावट देखने को मिली. इसमें मेटल स्टॉक को भारी नुकसान हुआ. राइट रिसर्च की सोनम श्रीवास्तव कमोडिटी की कीमतों को मेटल और उससे जुड़े सैक्टर की दिशा तय करने के लिए प्रमुख कारक मान रही हैं.

ये भी पढ़ें- 100 रुपये तक छलांग लगा सकता है राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो में शामिल ये शेयर, ब्रोकरेज हाउस है बुलिश

चौथी तिमाही के नतीजे
सोनम श्रीवास्तव का कहना है कि अगले हफ्ते आईओसी, डीएलएफ, आईटीसी और ल्यूपिन के तिमाही नतीजे सामने आने की उम्मीद है जो कई श्रेणियों के शेयरों की दिशा में बदलाव कर सकते हैं.

अमेरिका के महंगाई आंकड़े
खुदरा महंगाई के ऊंचे आंकड़े यूएस डॉलर पर सीधा असर डाल सकते हैं. अगर डॉलर टूटता है तो इसमें मुनाफावसूली शुरू हो सकती है. इसलिए ये महंगाई आंकड़े स्टॉक मार्केट के लिए अहम होंगे.

Tags: Share market

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: