Monday, May 23rd, 2022

मौसम अपडेट: उत्तर-पश्चिम, मध्य भारत में जारी रहेगी हीटवेव की स्थिति, 16-17 मई को बारिश का पूर्वानुमान : Lokmat Daily

मौसम अपडेट: उत्तर-पश्चिम, मध्य भारत में जारी रहेगी हीटवेव की स्थिति, 16-17 मई को बारिश का पूर्वानुमान : Lokmat Daily

नई दिल्ली: दिल्ली सहित भारत के कई हिस्सों में आने वाले 2 दिनों में भीषण गर्मी की स्थिति बनी रहेगी. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, अगले 2 दिनों के दौरान देश के उत्तर-पश्चिम और मध्य भागों में लू की स्थिति बनी रहेगी और उसके बाद मौसम में बदलाव संभव है. आईएमडी ने अपने वेदर बुलेटिन में कहा कि अगले 2 दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में अधिकतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होगा और अगले 3 दिनों के दौरान 2 से 4 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आएगी.

इस बीच, अगले दो दिनों के दौरान महाराष्ट्र के दक्षिणी हिस्सों में अधिकतम तापमान में धीरे-धीरे 3 से 4 डिग्री की वृद्धि होगी. 15 मई को राजस्थान के पश्चिमी और पूर्वी हिस्सों में अलग-अलग इलाकों में गंभीर गर्मी की स्थिति का अनुमान है. 17 मई तक मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी इसी तरह का मौसम रहने का अनुमान है. पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी रविवार को लू चलने की संभावना है. एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में, रविवार को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में छिटपुट वर्षा या गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है.

16 और 17 मई को देश के कई राज्यों में बारिश होगी
आईएमडी ने कहा, ’16 और 17 मई को जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में गरज के साथ छिटपुट से काफी व्यापक हल्की/मध्यम वर्षा के साथ गरज/बिजली/तेज हवाओं और ओलावृष्टि के साथ बारिश की गतिविधि बढ़ने की संभावना है. 16 और 17 मई को उत्तरी पंजाब और पूर्वी उत्तर प्रदेश में गरज के साथ छिटपुट हल्की बारिश और बिजली गिरने की भी भविष्यवाणी की गई है. हरियाणा, पश्चिम उत्तर प्रदेश और राजस्थान में 16 मई को अलग-अलग स्थानों पर धूल भरी आंधी या गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है. रविवार को उत्तरी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर 30-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी हवाएं चलने की संभावना है.’

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून तेजी से तटों की ओर आगे बढ़ रहा
इस बीच, मौसम एजेंसी ने कहा कि अगले 48 घंटों के दौरान दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के दक्षिण अंडमान सागर, निकोबार द्वीप समूह और उससे सटे दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी में आगे बढ़ने की संभावना है. निचले क्षोभमंडल स्तरों में बंगाल की खाड़ी से अंडमान सागर तक मजबूत क्रॉस-इक्वेटोरियल प्रवाह के कारण, अगले 5 दिनों के दौरान अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में गरज के साथ व्यापक वर्षा/बिजली/आंधी का पूर्वानुमान ​है. 15 और 17 मई के दौरान दक्षिण अंडमान सागर में हवा की गति 40-50 किमी प्रति घंटे से 60 किमी प्रति घंटे तक रह सकती है.

पूर्वोत्तर भारत और बिहार, झारखंड में बारिश का पूर्वानुमान
आईएमडी ने अगले पांच दिनों के दौरान पूर्वोत्तर भारत और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भी बारिश की भविष्यवाणी की है. 17 मई तक बिहार, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल और ओडिशा में अलग-अलग जगहों पर गरज के साथ छिटपुट बारिश/बिजली/ तेज हवाएं चल सकती हैं. मौसम विभाग ने 16 मई तक केरल, माहे, तमिलनाडु, पुडुचेरी-कराइकल, तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और लक्षद्वीप में अलग-अलग गरज/बिजली/ तेज हवाओं के साथ व्यापक रूप से व्यापक वर्षा का अनुमान लगाया है. इस बीच, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक और रायलसीमा में 17 मई तक अलग-अलग जगहों पर गरज के साथ छिटपुट बारिश या बिजली गिरने की संभावना है.

Tags: IMD forecast, Weather Alert, Weather Update

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: